Mere Samne wali Khidki Mein ( मेरे सामने वाली खिड़की में ) Lyrics

Mere Samne wali Khidki Mein Lyrics

Film- Padosan
Singer- Kishore Kumar
Music Director- R D Burman
Lyricist- Rajinder Krishna

Mere Samne wali Khidki Mein
ek chaand ka tukda rahta hai
afasos ye hai ke vo hamse
kuchh ukhda-ukhda rahta hai

jis roz se dekha hai usako
ham shamaan jalaana bhool gae
dil thaam ke aise baithe hain
kaheen aana-jaana bhool gae
ab aath pahar in aankhon mein
vo chanchal mukhada rahata hai

Mere Samne wali Khidki Mein
ek chaand ka tukda rahta hai

barasaat bhee aakar chalee gai
baadal bhee garaj kar baras gae
par usakee ek jhalak ko ham
ai husn ke maalik taras gae
kab pyaas bujhegee aankhon ki
din raat ye dukhda rahta hai

Mere Samne wali Khidki Mein
ek chaand ka tukda rahta hai

Mere Samne wali Khidki Mein Lyrics

फिल्म – पड़ोसन
गायक- किशोर कुमार
संगीतकार- राहुलदेव बर्मन
गीतकार- राजिंदर कृषण

मेरे सामने वाली खिड़की में
एक चांद का टुकड़ा रहता है
अफ़सोस ये है के वो हमसे
कुछ उखड़ा-उखड़ा रहता है

जिस रोज़ से देखा है उसको
हम शमां जलाना भूल गए
दिल थाम के ऐसे बैठे हैं
कहीं आना-जाना भूल गए
अब आठ पहर इन आँखों में
वो चंचल मुखड़ा रहता है

मेरे सामने वाली खिड़की में
एक चांद का टुकड़ा रहता है

बरसात भी आकर चली गई
बादल भी गरज कर बरस गए
पर उसकी एक झलक को हम
ऐ हुस्न के मालिक तरस गए
कब प्यास बुझेगी आँखों की
दिन रात ये दुखड़ा रहता है

मेरे सामने वाली खिड़की में
एक चांद का टुकड़ा रहता है